दिल्ली में सजा ममता दीदी का दरबार, प्रशांत किशोर और कांग्रेस नेता कमलनाथ ने की मुलाकात , पीएम मोदी से भी मिलेंगी, जानें क्या है इसके राजनितिक मायने

पश्चिम बंगालकी मुख्यमंत्री ममता बनर्जी  सोमवार की शाम दिल्ली पहुंच गईं. दिल्ली में दीदी का दरबार सज गया है. सीएम ममता से प्रशांत किशोर और कांग्रेस नेता कमलनाथ  ने मुलाकात की. कमलनाथ, ममता बनर्जी से मुलाकात करने साउथ एवेन्यू में उनके आवास पर पहुंचे. ममता बनर्जी की कांग्रेस (Congress) के अन्य नेताओं वे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  के साथ मुलाकात होनी है. पीएम मोदी से मुलाकात के बाद ममता बनर्जी प्रेस कॉन्फ्रेस भी कर सकती हैं.

बंगाल विधानसभा चुनाव में जीत हासिल करने के बाद टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी अब राष्ट्रीय राजनीति में भी अपनी पैठ मजबूत करने में जुट गई हैं. केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ विपक्षी मोर्चे को एकजुट करने के संबंध में ममता दिल्ली पहुंची हैं. वह विपक्षी नेताओं को एकजुट करने का प्लान बना रही हैं. पीएम मोदी से मुलाकात के अलावा ममता की मुलाकात कांग्रेस के नेताओंं से भी होनी है.

इन नेताओं से भी मिल सकती हैं ममता
बताया जा रहा है कि ममता बनर्जी कल सोनिया गांधी से उनके आवास 10 जनपथ पर मुलाकात करेंगी. शरद पवार के साथ भी उनकी मुलाकात प्रस्तावित है. फिलहाल समय और दिन तय नहीं है. ममता बनर्जी विपक्ष के बड़े नेताओं से उनके आवास पर ही जाकर मुलाकात करेंगी.दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी ममता बनर्जी के आवास पर मिलने आएंगे. ममता की इन नेताओं से मीटिंग पर सबकी नजर है.

ममता बनर्जी का आज का कार्यक्रम

2:00PM -कमलनाथ से मुलाकात करेंगी.
3:00PM – अनांद शर्मा से मुलाकात करेंगी.
4:00PM – पीएम मोदी से मुलाकात करेंगी.
6:30PM – अभिषेक मनु सिंघवी से मुलाकात करेंगी.

पांच दिन के दिल्ली दौरे पर हैं ममता बनर्जी
बंगाल की सीएम ममता बनर्जी पांच दिन के दिल्ली दौरे पर हैं. ऐसा माना जा रहा है कि ममता बनर्जी अपने इस पांच दिन के दिल्ली दौरे के दौरान विपक्ष को एकजुट करने की कोशिश करेंगी. ममता बनर्जी का ये दिल्ली दौरा ऐसे समय में हो रहा है जब संसद का मॉनसून सत्र चल रहा है और सदन में हर रोज हंगामा हो रहा है.

पेगासस जासूसी मामले में गठित की कमीशन

दिल्ली आने से पहले सोमवार को ममता बनर्जी ने बताया था कि सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज एम बी लोकुर और कोलकाता हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज ज्योतिर्मयी भट्टाचार्य के नेतृत्व में एक कमीशन का गठन किया गया है जो पिछले दिनों कई महत्वपूर्ण व्यक्तियों के फोन टैपिंग और हैकिंग के मामले की जांच करेगा.

Related posts

Leave a Comment