अमेरिका ने काबुल छोड़ा , आज से पूरी तरह तालिबान का राज, वापसी से पहले अमेरिका ने कई विमानों को उड़ने लायक नहीं छोड़ा, रॉकेट डिफेंस सिस्टम भी किया खराब

19 साल, 10 महीने और 25 दिनों के बाद अमेरिका ने आखिरकार अफगानिस्तान को छोड़ दिया है. दो दशकों की लड़ाई लड़ने के बाद अमेरिका यहां से लौटा है, जिसे एक बड़ी हार माना जा रहा है. सोमवार की देर रात को जब अमेरिका का आखिरी विमान काबुल एयरपोर्ट से उड़ा, तो तालिबान के लड़ाकों ने जमकर जश्न मनाया. काबुल की सड़कों पर तालिबान द्वारा हवाई फायरिंग की गई.

अमेरिका के काबुल छोड़ने के बाद अब काबुल एयरपोर्ट पर तालिबान का कब्जा हो गया है. यानी अगर अब किसी को देश से बाहर जाना है, तो तालिबान की इजाजत के बाद ही जाना होगा. अफगानिस्तान पर अब तालिबान का पूरी तरह कंट्रोल है.

अमेरिकी सेना की वापसी हो गई है लेकिन वापसी से पहले अमेरिकी सेना ने कई उन विमानों को किसी काम के लायक नहीं छोड़ा है जो अफगानिस्तान में तैनात किए थे, हामिद करजई इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर ऐसे तीहतर विमानों को बेकार कर दिया गया है, अब वो विमान कभी नहीं उड़ पाएंगे.

इसके अलावा अफगानिस्तान में मौजूद रॉकेट डिफेंस सिस्टम को भी अमेरिकी सेना ने नष्ट कर दिया है. अब इनका इस्तेमाल नहीं हो पाएगा, इसके अलावा उन गाड़ियों को भी अमेरिकी सेना ने नष्ट कर दिया है जो हथियारों से लैस थीं.

जानकारों की मानें तो अमेरिका ने अफगानिस्तान में जो हथियार छोड़ दिए हैं उन्हें बड़ी संख्या में ऐसे ही बेकर कर दिया है. इसके अलावा एक्सपर्ट्स का कहना है कि अमेरिका ने अफगानिस्तान में जिन हथियारों की तैनाती की थी, वो सभी देश के अंदर की परिस्थ्तियों से निपटने के लिए इस्तेमाल होने वाले हथियार हैं. यानी इन हथियारों तालिबान चाह कर भी किसी दूसरे देश को नुकसान नहीं पहुंचा सकता है.

हेलिकॉप्टर से शख्स को लटकाए दिखे तालिबाने लड़ाने
अफगानिस्तान से अमेरिकी सेना की वापसी के बाद तलिबान किस कदर आतंक मचाएगा, इसकी तस्वीर सामने आने लगी है. दरअसल अफगानिस्तान से एक वीडियो सामने आया है. इस वीडियो में तालिबान के लड़ाके ब्लैक हॉक हेलिकॉप्टर कंधार के आसमान में उड़ा रहे हैं. हेलिकॉप्टर से एक आदमी को भी लटका रखा है, अभी ये साफ नहीं हुआ है कि जिसे हेलिकॉप्टर से लटकाया गया है वो कौन है. ये वीडियो वायरल हो रहा है.

Related posts

Leave a Comment