रोहतक ज‍िले में हुए सनसनीखेज हत्याकांड की गुत्थी सुलझी , पर‍िवार के चार सदस्यों के स‍िर में मारी थी गोली , कात‍िल के बारे में जानकर हो जायेगे हैरान

हर‍ियाणा के रोहतक ज‍िले में हुए सनसनीखेज हत्याकांड की परतें पुल‍िस ने खोल दी हैं. विजय नगर में एक परिवार के चार सदस्यों की हत्या के मामले में पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा ने खुलासा कर द‍िया है. चार हत्याओं के मामले में पुलिस ने ज‍िस आरोपी को गिरफ्तार क‍िया, वह उनका इकलौता बेटा ही न‍िकला.

27 अगस्त को मृतक प्रदीप उर्फ बबलू पहलवान की उसके इकलौते बेटे ने हत्या कर दी थी. चारों को सिर में गोली मारी गई थी. पिता प्रदीप, मां बबली, बहन नेहा उर्फ तन्नू व नानी रोशनी को गोली मारी गई थी. तीन की सिर में गोली लगने से मौके पर ही मौत हो गई थी. दो दिन बाद पीजीआई में आरोपी की बहन ने इलाज के दौरान दम तोड़ा था.

आरोपी अभिषेक उर्फ मोनू (19) से पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो पुल‍िस को शक हुआ. चार हत्याओं के मामले में पुलिस की पांच टीमें जांच कर रही थीं ज‍िसने इस केस का खुलासा क‍िया.

बता दें क‍ि हरियाणा के रोहतक में झज्जर चुंगी स्थित शीतल नगर की बाग वाली गली में 27 अगस्त को एक परिवार के चार सदस्यों को अज्ञात बदमाशों ने गोली मार दी थी. तीन की मौके पर ही मौत हो गई और एक की हालत गंभीर बताई गई थी. बदमाशों ने चारों के सिर में गोली मारी थी.

मृतक प्रदीप प्रॉपर्टी का काम करता था. पुलिस को हत्या के पीछे प्रॉपर्टी विवाद का अंदेशा लग रहा था. जब पुलिस इस मामले की जांच में जुटी तो पुलिस और परिजनों की छानबीन और पड़ताल में सोनीपत नंबर की सफेद स्विफ्ट कार सामने आई. पुलिस नंबर के आधार पर इसकी तलाश में जुटी. आसपास के इलाकों का सीसीटीवी फुटेज को खंगाला गया.

इस हत्‍याकांड में एक बात चीज कॉमन देखने को मिली थी कि परिवार के सभी सदस्यों के सिर में गोली मारी गई थी जिससे कोई बच न पाए. मृतक प्रदीप के कान के पास मोबाइल फोन भी था. ऐसा लग रहा था कि शायद उन्‍हें बात करते हुए ही गोली मारी गई थी. वहीं दोनों महिलाओं को भी इसी तरह से गोली मारी गई थी. इसके अलावा 17 साल की एक नाबालिग लड़की के भी सिर में गोली मारी गई थी.

Related posts

Leave a Comment