पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने संभाला मोर्चा, प्रेस कॉन्फ्रेंस में किया दावा – बादल परिवार ने रखी थी तीनों कृषि कानून की नींव, पर्दाफाश कर दूंगा

पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की. नवजोत सिंह सिद्धू ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों की नींव अकाली दल के बादल परिवार ने रखी थी. पंजाब में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले नवजोत सिंह सिद्धू ने मोर्चा संभाल लिया गया है. 

नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि अकाली दल ही केंद्र के पास कृषि कानून का प्रस्ताव लेकर गई, पहले इन्हें पंजाब में लागू किया गया और बाद में केंद्र में इसे लागू किया गया. पंजाब में साल 2013 में विधानसभा में ऐसा एक्ट लाया गया, ये एक्ट प्रकाश सिंह बादल ने पेश किया था. 

कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि बादल सरकार द्वारा जो एक्ट विधानसभा में लाया गया था उसमें MSP का ज़िक्र ही नहीं था. सिद्धू बोले कि किसानों के पास कोर्ट जाने का अधिकार नहीं था, जमीन को लेकर भी दिक्कतें थीं. 

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि बादल सरकार द्वारा जो एक्ट पंजाब में पेश किया गया था, उसे ही हूबहू केंद्र में लागू कर दिया गया. जब ये कानून लागू हुआ तब अकाली दल एनडीए का ही हिस्सा था. 

नवजोत सिंह सिद्धू ने आरोप लगाया कि कृषि कानूनों के जरिए किसानों को गुलाम बनाने की कोशिश की गई है. अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में नवजोत सिंह सिद्धू ने कुल दस प्वाइंट सामने रखे. सिद्धू ने दावा किया कि पंजाब में लागू हुए कानून को देश में लागू कर दिया गया.  

गौरतलब है कि कांग्रेस ने इस बार नवजोत सिंह सिद्धू को पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया है. नवजोत सिंह सिद्धू और कैप्टन अमरिंदर सिंह के गुट में शुरुआत में लगातार तकरार जारी रही. लेकिन हाल ही में केंद्रीय आलाकमान की नसीहतों के बाद नवजोत सिंह सिद्धू एक बार फिर अपने मिशन में जुट गए हैं. पंजाब में अगले साल विधानसभा चुनाव हैं और कांग्रेस के सामने इस बार आम आदमी पार्टी चुनौती खड़ी कर रही है.  

Related posts

Leave a Comment