चुनावी घमासान के बीच एशिया के सबसे बड़े हवाई अड्डे और दुनिया के चौथे सबसे बड़े जेवर एयरपोर्ट का पीएम मोदी ने किया शिलान्यास, योगी ने किसानों का धन्यवाद किया, सिंधिया बोले- आज जेवर में अलग चमक दिख रही , जानिए क्या होगी जेवर एयरपोर्ट की खासियतें?

पीएम मोदी ने दुनिया के चौथे सबसे बड़े एयरपोर्ट का शिलान्यास कर दिया. उत्तर प्रदेश अगले तीन सालों के अंदर देश के सबसे प्रमुख विमानन केंद्र के तौर पर स्थापित हो जाएगा. उस समय तक जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट भारत का आधुनिकतम ग्रीनफील्ड (नया बनने वाला) एयरपोर्ट होगा. इसके अलावा राज्य में उस समय तक 16 अन्य एयरपोर्ट परिचालन में होंगे.

उत्तर प्रदेश: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जेवर में ‘नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे’ का शिलान्यास किया। pic.twitter.com/ovKxnG7EDE

— ANI_HindiNews (@AHindinews) November 25, 2021

सीएम योगी बोले- पश्चिमी यूपी में दंगे कराए गए, गन्ने की मिठास को कुछ लोगों ने कड़वा किया

जेवर एयरपोर्ट के शिलान्यास से पहले सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ये देश गन्ने की ऊंचाई से एक नई उड़ान देंगे. ये मेरा सौभाग्य है कि जेवर के इस ऐतिहासिक अवसर पर पीएम मोदी के स्वागत करने का मौका मिला है. पश्चिमी यूपी में दंगे कराए गए. गन्ने की मिठास को कुछ लोगों ने कड़वा किया. जेवर के किसानों ने विकास को लेकर बड़ा योगदान दिया है.

PM के निर्देश पर जेवर में बनेगा एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट- सिंधिया

जेवर एयरपोर्ट के शिलान्यास से पहले केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंच पर स्पीच दी. सिंधिया ने कहा, प्रधानमंत्री का निर्देश था कि एशिया का सबसे बड़ा हवाई अड्डा बनेगा तो उत्तर प्रदेश के जेवर में बनेगा. यहां आने वाले दिनों में 34,000 करोड़ से भी ज़्यादा का निवेश होगा. जेवर एयरपोर्ट को रोड़, रेल, मेट्रो, बस सेवा से जोड़ा जाएगा.

 जेवर एयरपोर्ट की खासियतें

यह एशिया का सबसे बड़ा हवाई अड्डा और फर्स्ट नेट जीरो एमिशन एयरपोर्ट होगा यानी प्रदूषण से पूरी तरह मुक्त.  लोकेशन के लिहाज से देखें तो जेवर एयरपोर्ट आगरा से 130 किलोमीटर और दिल्ली से महज 72 किलोमीटर दूर होगा. ग्रेटर नोएडा से 28 किलोमीटर और नोएडा से 40 किमी दूरी होगी.

Related posts

Leave a Comment