लखनऊ कमिश्नरेट पुलिस की बड़ी कार्रवाई – समाजवादी पार्टी राज में राज्यमंत्री रहे मोहम्मद इकबाल और उनके पिता की 2.54 अरब रुपये की प्रॉपर्टी सील, 10 करोड़ की सिर्फ गाड़ियां

लखनऊ: लखनऊ कमिश्नरेट पुलिस ने बीते सोमवार एक बड़ी कार्रवाई की है. दरअसल, समाजवादी पार्टी राज में राज्यमंत्री रहे मोहम्मद इकबाल और उनके पिता अजमत अली की 2.54 अरब रुपये की प्रॉपर्टी सील कर दी है. इसमें 10 करोड़ रुपये से ज्यादा की तो सिर्फ कार ही हैं. बता दें, दोनों पर जालसाजी, गैंग बनाकर अवैध संपत्तियां अर्जित करना और सरकारी जमीन पर कब्जा करने के आरोप हैं और इन सब मामलों में केस भी चल रहे हैं. मालूम हो इकबाल के पिता अजमत अली कैरियर डेंटल के मालिक हैं.

इस अधिनियम के तहत कार्रवाई
यह कार्रवाई मड़ियांव के घैला, अल्लूपुर और मुतक्कीपुर में की गई है. पुलिस कमिश्ननर डीके ठाकुर के आदेश पर समाज विरोध क्रियाकलाप अधिनियम की धारा 14 (1) के तहत पुलिस ने यह एक्शन लिया. जानकारी के मुताबिक, अजमत अली ने 1995 में कैरियर कॉन्वेंट एजुकेशनल एंड चैरिटेबल ट्रस्ट बनाया और सरकारी रास्तों और जमीनों पर कब्जा करना शुरू कर दिया.

बता दें, पुलिस ने जिन संपत्तियों को जब्त किया, यह है उनकी लिस्ट
कैरियर इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज एंड हॉस्पिटल (एकेडमिक ब्लॉक, हॉस्पिटल, कैंपस),
एमबीबीएस ब्वॉयज हॉस्टल,
कैरियर पीजी इंस्टीट्यूट ऑफ डेंटल साइंस एंड हॉस्पिटल (डेंटल कॉलेज, डेंटल हॉस्पिटल, नर्सिंग कॉलेज, स्टेडियम, भवन इंटर्न ब्वायज हॉस्टल व परिसर),
बीडीएस गर्ल्स हॉस्टल,
ब्वायज हॉस्टल,
एमबीबीएस गर्ल्स हॉस्टल,
नर्सेस हॉस्टल,
डॉ. रेजीडेंस हॉस्टल,
इंटर्न पीजी गर्ल्स हॉस्टल,
कैंटीन,
मेस,
डेंटल कॉलेज परिसर में एसटीपी,
ग्रामीण स्वास्थ्य प्रशिक्षण केंद्र मुतक्कीपुर,
दो मंजिला अधूरा निर्माण,
कैरियर कॉन्वेंट कॉलेज परिसर विकासनगर सेक्टर-5,
अर्द्धनिर्मित दो मंजिला भवन,
घैला, मुतक्कीपुर, अल्लूनगर डिगुरिया, बरौरा हुसैनबाड़ी, अलीनगर की जमीन

बैंक अकाउंट में 77 लाख रुपये भी
बताया जा रहा है कि पीएनबी घैला, एक्सिस बैंक शाखा आईआईएम रोड, एसबीआई पांडेयगंज, आईसीआईसीआई नादान महल रोड में अजमत अली और इकबाल के कई खाते थे. इन सभी को सील करते हुए सरकार ने 77,35,530 रुपये जब्त कर लिए हैं. इसके अलावा खुद और ट्रस्ट के नाम से खरीदीं लग्जरी कारें (फॉर्च्यूनर, ऑडी, क्वॉलिस, इनोवा), बस और अन्य गाड़ियां, जिनकी कीमत 10,91,15,000 रुपये है, उन्हें भी पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया है.

Related posts

Leave a Comment