छत्तीसगढ़ में कांग्रेस को लगा बड़ा झटका , वेदराम मनहरे समेत 10 कांग्रेस नेता BJP में शामिल, समझिए भूपेश सरकार के लिए क्यों है ये बड़ा झटका?

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है. बता दें कि पार्टी के वरिष्ठ नेता वेदराम मनहरे समेत 10 कांग्रेसी नेताओं ने आज भाजपा का दामन थाम लिया. छत्तीसगढ़ भाजपा की प्रदेश प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी ने दिल्ली में वेदराम मनहरे समेत अन्य कांग्रेसी नेताओं को पार्टी की सदस्यता दिलाई. बता दें कि मनहरे तिल्दा जनपद पंचायत के 2 बार अध्यक्ष और उपाध्यक्ष रह चुके हैं. 

कांग्रेस के लिए बड़ा झटका क्यों?
वेदराम मनहरे का भाजपा में जाना कांग्रेस के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है. इसकी वजह ये है कि वेदराम मनहरे सतनामी समाज के वरिष्ठ पदाधिकारी हैं और समाज के प्रभावी नेता माने जाते हैं. गौरतलब है कि सतनामी समाज छत्तीसगढ़ में खासा अहम वोटबैंक है. कुल वोटों में इस समाज की हिस्सेदारी 16 फीसदी है. राज्य की 14 विधानसभा सीटों पर सतनामी समाज 20-35 फीसदी वोट शेयर रखता है. यही वजह है कि छत्तीसगढ़ में सियासी पार्टियों के लिए सतनामी समाज की काफी अहमियत है. 

साल 2018 में सतनामी समाज के गुरू बलदास ने अपने बेटे खुशवंत साहब के साथ कांग्रेस का दामन थाम लिया था. जिसके चलते बीते विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को सतनामी समाज का साथ मिला था. अब वेदराम मनहरे के भाजपा में आने से भाजपा कांग्रेस के इस वोटबैंक में सेंध लगाने की उम्मीद कर सकती है. 

बता दें कि साल 2018 के विधानसभा चुनाव में वेदराम मनहरे रायपुर की आरंग सीट से कांग्रेस से टिकट के दावेदार थे. हालांकि पार्टी ने उन्हें टिकट नहीं दिया था. माना जा रहा है कि तभी से वेदराम मनहरे पार्टी से नाराज चल रहे थे. 

Related posts

Leave a Comment