पंजाब में फिर मचा घमासान, सिद्धू ने पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दिया , उधर कैप्टन अमरिंदर के बीजेपी में जाने की अटकले तेज , आज अमरिंदर के अमित शाह से मिलने की सम्भावना, पढ़िए पूरी खबर

नवजोत सिंह सिद्धू ने पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया. हालांकि, उन्होंने कहा है कि वे कांग्रेस में बने रहेंगे. सिद्धू ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को लिखे खत में कहा कि वे कांग्रेस पार्टी के सदस्य बने रहेंगे. पंजाब में आज नए मंत्रियों के बीच विभागों का बंटवारा हुआ है और इसके चंद घंटे बाद ही सिद्धू ने सोनिया गांधी को इस्तीफा भेज दिया. इसके पीछे कुछ महत्वपूर्ण वजह हैं.

दरअसल, जब पंजाब में मंत्रियों के नाम तय किए गए तब राहुल गांधी ने पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के बातचीत कर इसका फैसला किया. इसमें कहीं भी नवजोत सिंह सिद्धू को शामिल नहीं किया गया. पहले दिन की मीटिंग में उन्हें जरूर बुलाया गया लेकिन जब राहुल गांधी शिमला से लौटकर आए तब की मीटिंग में सिद्धू को शामिल नहीं किया गया.

पंजाब में चन्नी सरकार के गठन के बाद सिद्धू को लगातार किनारे किया गया है. कैप्टन अमरिंदर उनके खिलाफ लगातार बयानबाजी कर रहे हैं. ऐसे में माना जा रहा है कि सिद्धू ने इस्तीफा देकर अपनी नाराजगी जाहिर की है. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को लिखी चिट्ठी में सिद्धू ने कहा है कि वह कभी भी समझौते के लिए तैयार नहीं हैं क्योंकि इससे इंसान के चरित्र का पतन होता है. उन्होंने आगे लिखा कि पंजाब के भविष्य से किसी भी कीमत पर समझौता करने के लिए तैयार नहीं हूं. इसके अलावा सिद्धू ने कहा कि पंजाब की सेवा करता रहूंगा.

उधर  आज पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह गृहमंत्री अमित शाह से दिल्ली में मुलाकात कर सकते हैं. दोपहर करीब 3.30 बजे वे चंडीगढ़ से दिल्ली के लिए रवाना होंगे. चर्चा है कि शाम को उनकी जेपी नड्डा सहित कई बीजेपी नेताओं से मुलाकात होनी है. ऐसे में क्या कैप्टन अमरिंदर सिंह बीजेपी ज्वाइन करने वाले हैं? इस पर सभी की निगाहें टिकी हुई हैं. पंजाब के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद अमरिंदर ने कहा था कि उनके पास अभी कई विकल्प हैं, लेकिन वे करीबियों से सलाह के बाद ही कोई फैसला लेंगे.

Related posts

Leave a Comment